मेन्यू
कन्या आवासीय विद्यालय
दयोदय तीर्थ, तिलवारा घाट,
जबलपुर,मध्य प्रदेश-482003
सी.बी.एस.ई.क्रमांक-1030322
  • सूरज की पहली किरण के साथ ही प्रतिभास्थली की मार्गदर्शिका आर्यिकारत्न 105 आदर्शमति माताजी के ससंघ सानिध्य में प्रतिभा मंडल की बड़ी दीदियों के द्वारा छात्राओं के ऊपर ‘संस्कारों का अध्यारोपण’ के साथ नए सत्र का शुभारंभ हुआ।
  • रानी दुर्गावती संग्रहालय में विश्व धरोहर सप्ताह के उपलक्ष्य में ‘प्राचीन मूर्तिकला’ विषय पर चित्रकला प्रतियोगिता में कु.अग्रिमा ने प्रथम स्थान, कु.अवनि ने द्वितीय स्थान और कु.स्वस्ति ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त कर विद्यालय का गौरव बढ़ाया है।
  • नगर निगम जबलपुर के द्वारा आयोजित जिलास्तरीय निबंध प्रतियोगिता में कु. आशिका जैन कक्षा 9वीं ने प्रथम स्थान प्राप्त किया है। आशिका को पुरस्कृत करते हुए महापौर श्री जगतबहादुर सिंह ‘अन्नू’ ने कहा कि “आशिका ने आचार्य श्री विद्यासागर जी के आदर्शो को अपनी कलम से कागज पर उतार दिया है”।
  • कु.आरुषी जैन ने बिना कोचिंग के प्रथम प्रयास में ही नीट की परीक्षा में 611 अंक और कक्षा 12वीं की परीक्षा में 97% अंक प्राप्त कर अद्भुत प्रतिभा का परिचय दिया। यह सिर्फ गुरुकृपा का ही परिणाम है। प्रतिभास्थली परिवार को उनकी इस सफलता पर गर्व है।
  • उपाश्रम के परिसर में परिश्रम का फल

    कक्षा 10 वीं का परिणाम...
    मार्वी जैन 95.6%
    शुचि जैन 94.6%
    दृष्टि जैन 94.2%

  • सराहनीय सफलता का सुखद सोपान
    कक्षा 12 वीं का शत्-प्रतिशत परिणाम...
    आरुषी जैन (विज्ञान संकाय) 96.6%
    जिया जैन, स्नेहा जैन (वाणिज्य संकाय) 91.8%
    अर्चा जैन (कला संकाय) 93%
    11 छात्राओं ने 90% से अधिक अंक प्राप्त किये
  • जीविका आश्रम में कक्षा 10वीं की छात्राओं ने जबलपुर से 30 किलोमीटर दूर बसे इंद्राणा गांव में आशीष गुप्ता द्वारा संचालित ‘जीविका आश्रम’ में भ्रमण किया। वहाँ छात्राओं ने कुम्हार की कला, बांस से सामान बनाना, गोबर से घर की लिपाई, पत्थरों पर पॉलिश और पेड़ पर चूने से पुताई की।
  • छत्तीसगढ़ की धरा पर स्थित चन्द्रगिरी तीर्थ में विराजमान आचार्यश्री 108 विद्यासागरजी महाराज के पावन चरणों में पहुँचकर कक्षा 12वीं की छात्राओं ने उनके दर्शन और पूजन का लाभ लिया। बोर्ड परीक्षा की सफलता हेतु सभी ने आशीर्वाद भी प्राप्त किया। हम उनके पुण्य की बहुत-बहुत अनुमोदना करते हैं।
  • कक्षा 12वीं का नया सत्र शुरू होने से पूर्व छात्राओं ने बरगी में विराजमान आर्यिकारत्न 105 ऋजुमतिमाताजी के दर्शन कर उनका आशीर्वाद प्राप्त किया। आहारदान के लाभ के साथ ही माताजी के मुखारविंद से णमोकार मंत्र के उच्चारण द्वारा 12वीं कक्षा के नवीन सत्र का मंगलाचरण हुआ।
  • डिंडोरी के पास ‘श्याममृग का प्राकृतिक आवास स्थल, कारोपानी’ में आचार्यश्री विद्यासागरजी महाराज के आशीर्वाद से चलचरखा प्रशिक्षण केंद्र संचालित हो रहा है। कक्षा 12वीं की छात्राओं ने वहाँ जाकर हथकरघा का प्रशिक्षण लिया और वहाँ कार्यरत महिलाओं का साक्षात्कार लिया।
  • दिल्ली की धरा पर प्रतिभास्थली का धमाल
    शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास केंद्र, की ओर से दिल्ली की धरा पर ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020’ के क्रियान्वयन के संदर्भ में आयोजित त्रिदिवसीय ‘ज्ञानोत्सव 2079’ कार्यक्रम में प्रतिभास्थली द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में अपनाए गए नवाचारों को लेकर बहुत ही सुंदर प्रस्तुति दी गयी।
संघर्ष में भी,
चन्दन सम सदा,
सुगंधी बाँटू।
-आचार्यश्री विद्यासागरजी महाराज
0130720
आगंतुक गणनाफलक